हरियाणा की मंडियों में अब तक 65.97 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की आवक हो चुकी है।

  • चंडीगढ़, 8 नवंबर- हरियाणा की मंडियों में अब तक 65.97 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की आवक हो चुकी है।
  • खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि धान की कुल आवक में से सरकारी खरीद एजेंसियों द्वारा 61.76 लाख मीट्रिक टन से अधिक और मिलरों व डीलरों द्वारा 4.21 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की खरीद की गई है।
  • उन्होंने बताया कि कुल आवक में से खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग ने 33.48 लाख मीट्रिक टन से अधिक, हैफेड ने 19.31 लाख मीट्रिक टन से अधिक, हरियाणा भंडागार निगम ने 8.91 लाख मीट्रिक टन से अधिक और भारतीय खाद्य निगम ने 4,429 मीट्रिक टन धान की खरीद की है।
  • विभिन्न जिलों की मंडियों में धान आवक की विस्तृत जानकारी देते हुए प्रवक्ता ने बताया कि अब तक जिला करनाल में सर्वाधिक 16.76 लाख मीट्रिक टन से अधिक, जबकि जिला कुरूक्षेत्र में 11.42 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की आवक हुई। इसी प्रकार, जिला अंबाला में 8.36 लाख मीट्रिक टन से अधिक, फतेहाबाद में 8 लाख मीट्रिक टन से अधिक, कैथल में 6.89 लाख मीट्रिक टन से अधिक, यमुनानगर में 6.82 लाख मीट्रिक टन से अधिक, पंचकूला में 1.53 लाख मीट्रिक टन से अधिक, सिरसा में 1.34 लाख मीट्रिक टन से अधिक, पलवल में 1.21 लाख मीट्रिक टन, जींद में 1.17 लाख मीट्रिक टन से अधिक, सोनीपत में 1.07 लाख मीट्रिक टन से अधिक, पानीपत में 51,941 मीट्रिक टन से अधिक, हिसार में 58,667 मीट्रिक टन से अधिक, फरीदाबाद में 11,483 मीट्रिक टन से अधिक, रोहतक में 6,877 मीट्रिक टन से अधिक और मेवात में 6,837 मीट्रिक टन धान की आवक हुई है।
  • उन्होंने बताया कि हरियाणा की मंडियों में अब तक 2.57 लाख मीट्रिक टन से अधिक बाजरे की आवक हो चुकी है जबकि पिछले वर्ष अब तक 1.68 लाख मीट्रिक टन बाजरे की आवक हुई थी। बाजरे की कुल आवक में से सरकारी खरीद एजेंसियों द्वारा 2.55 लाख मीट्रिक टन से अधिक खरीद की गई है।